बच्चों को नशा बेचकर कमा रहा था रुपए, पुलिस ने किया गिरफ्तार

0
283

गोरखपुर। धर्मशाला ओवरब्रिज के पास भीख मांगने और कूड़ा बीनने वाले बच्चों को सुलेशन का नशा कराने का वीडियो वायरल होने के बाद पुलिस हरकत में आई। बच्चों को सुलेशन पिलाकर उनको नशे की लत लगाने वाले कारोबारी को पुलिस ने पकड़ लिया। उसके पास से बड़ी संख्या में सुलेशन और पैसा बरामद हुआ। पु​लिस का कहना है कि वह बच्चों को सुलेशन बेचकर रुपए कमाता है। शहर में इस तरह के अन्य कारोबारियों के खिलाफ भी कार्रवाई होगी। डीआईजी—एसएसपी जोगेंद्र कुमार ने कहा कि हर थाना क्षेत्र में पुलिस जांच करेगी। बच्चों को नशे से बचाने के लिए कार्रवाई की जाएगी।

क्या था वायरल वीडियो, कैसे हुआ असर
शुक्रवार को सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हुआ। वीडियो में सिनेमा रोड पर करीब तीन—चार साल का एक बच्चा तड़पता हुआ दिखाई दे रहा था। सड़क पर पड़े बच्चे को कुछ लोगों ने उठाकर किनारे कर दिया। लेकिन उसकी पीड़ा समझने की कोशिश किसी ने नहीं की। बच्चे की समस्या सामने आने पर उसे अस्पताल ले जाया गया। तब मालूम हुआ कि उसे नशे की लत है। इसका वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हो गया। शनिवार को कार्रवाई करती पुलिस की टीम ने धर्मशाला बाजार में सुलेशन विक्रेता राजा को पकड़ा। शाहपुर के कृष्णा नगर का रहने वाला राजा सुलेशन बेचकर पैसे कमाता है। वह छोटे बच्चों खासकर कूड़ा बीनने और भीख मांगने वालों को इसका आदती बना देता है। भीख मांगने वाले बच्चे रुपए जुटाकर उससे सुलेशन खरीदकर सूंघते हैं। पुलिस ने तीन बच्चों को भी वहां से मुक्त कराया। तीनों नशे की हालत में थे।

इसलिए नशे में इस्तेमाल करते सुलेशन
– भीख मांगने और कबाड़ बीनने वाले बच्चे दिनभर मेहनत करते हैं।
– पंचर जोड़ने वाले ट्यूब में इस्तेमाल होना सुलेशन, व्हाइटनर आसानी से मिलता है।
– कम पैसे मिलने की वजह से बच्चे इसे खरीदकर सूंघते हैं।
नशा होने पर बच्चों की थकान दूर हो जाती है। उनको अच्छी नींद आ जाती है।
– नशा करने के बाद बच्चों को भूख कम लगती है। इसलिए वह खाने के लिए परेशान नहीं होते हैं।

“पूरे शहर में सुलेशन का नशा करने वाले बच्चे मिल जाएंगे। हम लोग इस मुद्दे पर पुलिस अधिकारियों से बात करेंगे। धर्मशाला पर जो कार्यवाही हुई है। वह सराहनीय है।”
– नीतिन, सामाजिक कार्यकर्ता

Leave a Reply