देवदूत की भूमिका में एनडीआरएफ, जानिए कैसे मदद कर रहे जवान

0
10151

प्रवासियों को करा रहे भोजन, रेलवे स्टेशन पर भी सहयोग

गोरखपुर। कोरोना के संक्रमण काल में एनडीआरएफ के जवान देवदूत की भूमिका में आ गए हैं। प्रवासियों की मदद से लेकर उनके भोजन-पानी का प्रबंध कर रहे जवानों की टीम स्वास्थ्य जांच के बाद सभी को मेडिकल सुविधा भी उपलब्ध करा रही है। रविवार को एनडीआरएफ ने नौसढ़ चौराहे पर फूड स्टाल लगाया। सोशल डिस्टेसिंग का ख्याल रखते हुए टीम ने लखनऊ और वाराणसी की तरफ से आने-जाने वाले प्रवासी लोगों को भोजन उपलब्ध कराया। लोगों के लिए 560 लंच पैकेट, पानी कराया। कुछ यात्री कई दिनों से भूखे प्यासे पैदल चलकर आ रहे थे। भोजन के बाद सभी ने टेंट-कैम्प में आराम किया।

गोरखपुर जंक्शन पर मौजूद टीम।

रेलवे स्टेशन पर काम कर रही टीम, 10 दिनों से लगातार ड्यूटी
गोरखपुर में 11वीं बटालियन एनडीआरएफ का कैंप है। बटालियन की तीन टीमें गोरखपुर जंक्शन पर 10 दिनों से मौजूद है। रेलवे स्टेशन पर भीड़ का माहौल न बन जाए। इसको देखते हुए सभी की मदद में जवान जुटे हैं। सभी को उनके घरों तक सुरक्षित पहुंचाने हेतु जिला प्रशासन के साथ देर रात जवान जंक्शन पर जमे रहे। रेलवे स्टेशन पर कोविड-19 संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए सामाजिक दूरी, एरिया सैनिटाइजेशन के साथ-साथ लोगों को जागरूक भी टीम कर रही है।

Leave a Reply