बीआरडी मेडिकल कॉलेज में सीएम के बैठक की तस्वीरें खंगाल रहा हेल्थ डिपार्टमेंट

0
332

गोरखपुर। बीआरडी मेडिकल कॉलेज स्थित आरएमआरसी के सीनियर सांइटिस्ट, एक डॉक्‍टर और कमिश्‍नर के व्‍यक्तिगत सहायक के कोरोना पाजिटिव मिलने के बाद हड़कंप मचा हुआ है। एक हफ्ते पूर्व बीआरडी मेडिकल कालेज में कोरोना संक्रमण और संचारी रोगों के बचाव को लेकर आयोजित सीएम की बैठक की फोटो खंगाली जा रही है। हेल्थ डिपार्टमेंट के अधिकारी वीडियो और फोटो देखकर मीटिंग में शामिल लोगों के बीच दूरी जांच में जुटे हैं। कहा जा रहा है कि सीएम योगी आदित्‍यनाथ की अध्‍यक्षता में हुई बैठक में तीनों लोग मौजूद थे। इसलिए इस बात की जानकारी ली जा रही है कि कहीं ये लोग सीएम को नजदीक तो नहीं पहुंचे। यदि ऐसा हुआ होगा तो एहतियाती कदम उठाए जाएंगे।

पिछले हफ्ते में सोमवार गोरखपुर आए सीएम योगी आदित्यनाथ ने मीटिंग की थी। सीएम के साथ कमिश्नर भी मौजूद थे। कमिश्नर के व्यक्तिगत सहायक के संक्रमित होने की पुष्टि शुक्रवार को हुई। वहां समीक्षा बैठक में शामिल होने के पहले सीएम ने रीजनल मेडिकल रिसर्च सेंटर (आरएमआरसी) में बायोसेफ्टी लेवल-2 लैब का उद्घाटन भी किया था। इस दौरान सीएम के साथ मौजूद रहे साइंसटिस्ट भी संक्रमित पाए गए हैं। उसी संस्था के एक टेक्नीशियन में भी कोरोना की पुष्टि हुई। उधर सीएम की समीक्षा बैठक में शामिल रहे हेल्थ डिपार्टमेंट के क्वालिटी कंसलटेंट डॉ. मुस्तफा के लैपटॉप से ही अ​धिकारियों ने तैयारियों का प्रेजेंटेशन दिया था। बैठक के एक दिन पहले डॉ. मुस्तफा रेलवे हॉस्पिटल के कोरोना वार्ड में गए थे। इसके बाद न तो वह क्वारंटीन हुए और न ही कोरोना की जांच कराई।

अब वीडियो और फोटो की हो रही स्कैनिंग
सीएमओ डॉ. श्रीकांत तिवारी ने बताया कि सीएम के कार्यक्रम से संबंधित सभी फोटो और वीडियो को देखा जा रहा है। यह पता लगाया जा रहा है कि आरएमआरसी के साइंटिस्ट और कमिश्नर के व्यक्तिगत सहायक कार्यक्रम के दौरान सीएम के नजदीक तो नहीं पहुंचे थे। अगर वह सीएम से दो-तीन मीटर के दायरे में पाए गए तो डीएम को पूरे मामले की जानकारी दी जाएगी। इससे संबंधित साक्ष्य भी उपलब्ध कराए जाएंगे। क्वालिटी कंसल्टेंट, कोविड वार्ड में आरओ की मरम्मत कराने के लिए गए थे। लेकिन उनको इसकी तस्वीर सोशल मीडिया में वायरल नहीं करनी चाहिए थी।

Leave a Reply