खोराबार थाने में ‘हाथापाई’ पार्टी, 6 पुलिस वाले सस्पेंड, इंस्पेक्टर की विभागीय जांच शुरू

0
2088

गोरखपुर। खोराबार थाना के दरोगा रामशरण पाल की रिटायरमेंट पार्टी में रविवार की रात दरोगा और सिपाही आपस मे भिड़ गए। बताया जाता है कि जातिगत टिप्पणी को लेकर पहले कहासुनी हुई। इसके बाद एक- दूसरे को देख लेने की नौबत आ गई। बात बढ़ने पर दरोगाओं ने भी तेवर दिखाया। मारपीट में एक सिपाही भी घायल हो गया। मामले की जानकारी होने पर डीआईजी / एसएसपी जोगेंद्र कुमार ने सीओ कैंट से जांच कराई। इस मामले में 6 पुलिस कर्मचारियों को सस्पेंड कर दिया।

रविवार की रात बुलाई पार्टी, कहासुनी में बिगड़ी बात
खोराबार थाने में तैनात दरोगा रामशरण पाल 31 जनवरी को सेवानिवृत्‍त हुए थे। थाने पर तैनात पुलिसकर्मियों ने रात में विदाई पार्टी रखी। इसकी जिम्मेदारी एक ठेकेदार ने उठाई। उसने भव्य इंतजाम किया। भोजन करने के दौरान जातिगत टिप्पणी को लेकर एक दरोगा और सिपाही के बीच कहासुनी हो गई। गाली-गलौच से बात हाथापाई तक पहुंच गई। इसके बाद थाने के ड्राइवर और अन्य दरोगा भी इसमें शामिल हो गए। जमकर मारपीट की। थाना परिसर में मारपीट की बात अगल- बगल के लोगों को हो गई। पार्टी में पुलिसकर्मियों के बीच मारपीट होने की सूचना मिलते ही थाने पर मौजूद सभी पुलिसकर्मी पहुंच गए। बीच- बचाव कर मामले की जानकारी थानेदार को दी। थानेदार ने मामला दबाने की कोशिश शुरू कर दी। हालांकि इसकी जानकारी डीआईजी / एसएसपी को भी हो गई। किसी ने उनके पास वीडियो भी भेज दिया।

सफाई देने गए थानेदार को लगाई कड़ी फटकार
घटना को लेकर उन्होंने सोमवार की सुबह थानेदार को फटकार भी लगाई। दोपहर में सफाई देने और माफी मांगने के लिए वह पुलिस कार्यालय पहुंचे तो ने एसएसपी ने लौटा दिया। इस मामले में सीओ की जांच रिपोर्ट आने पर दरोगा अश्विनी कुमार चौबे, दिनेश कुमार यादव, रविसेन यादव, मुख्य आरक्षी मनोज सिंह, आरक्षी मुकेश यादव और आरक्षी चालक राजेश यादव को एसएसपी ने सस्पेंड कर दिया। प्रभारी निरीक्षक नासिर हुसैन प्रभारी की विभागों जांच के निर्देश दिए। इस मामले में इंस्पेक्टर पर भी गाज गिर सकती है। इस बात की चर्चा भी होती रही।

Leave a Reply