सनसनी: हैदराबाद कमाने गया पति, नदी में मिली पत्नी और दो बेटियों की लाश

0
1383

गोरखपुर। पीपीगंज इलाके में गगटा के पास रोहन नदी में एक महिला और उसकी दो बेटियों की लाश मिली। ग्रामीणों की सूचना पर पहुंची पुलिस ने शवों को निकलवाया। घंटों मशक्कत के बाद उनकी पहचान बगहीभारी निवासी शैलेष कन्नौजिया की पत्नी और बेटियों के रूप में हुई। महिला का पति सोमवार की सुबह हैदराबाद चला गया था। पीपीगंज के थानेदार सत्य प्रकाश सिंह ने बताया कि घटना की छानबीन की जा रही है। पोस्टमार्टम से मौत की सही वजह सामने आएगी।

नदी किनारे लाश देखकर मचाया शोर
गंगटा गांव रोहिन नदी के किनारे है। रोजाना सुबह गांव के लोग नदी की तरफ जाते हैं। सोमवार की सुबह कुछ लोग गए तो देखा कि एक महिला और दो लड़कियों की लाश पानी में पड़ी है। उनके शोर मचाने पर काफी भीड़ जमा हो गई। किसी ने इसकी सूचना पुलिस को दी। नदी में एक साथ तीन शव मिलने की सूचना पर पुलिस पहुंची। लाशों को बाहर निकलवाया गया। तब उनकी पहचान बगहीभारी निवासी शैलेष की पत्नी माया, बेटी शिवानी और बेटी अर्पिता के रूप में हुई।

रविवार की दोपहर घर से हुई लापता
बगहीभारी निवासी शैलेष पहले दुबई में रहकर काम करता था। बाद में वहां से लौटकर अहमदाबाद में कारपेंटर की नौकरी करने लगा। उसकी ससुराल मछलीगांव, बरातगाढ़ा के पास है। किसी बात को लेकर विवाद होने पर पत्नी माया मायके चली गई। लॉकडाउन में घर आए शैलेष ने पत्नी को बुलाया तो कुछ दिन पहले वह लौटकर आई। रविवार की दोपहर परिवार में किसी बात को लेकर विवाद हुआ। ससुर और पति से झगड़ा करने के बाद माया अपनी बेटियों संग कहीं चली गई। पति और बड़े बेटे विशाल ने तलाश करके पुलिस को सूचना दी। डॉयल 112 पर फोन करके जानकारी दी।

ट्रेन से गोंडा पहुंच चुका था महिला का पति
पत्नी के घर न लौटने पर पति ने रात में भी तलाश की। सोमवार की सुबह अहमदाबाद जाने के लिए उसने ट्रेन का टिकट लिया था। उसे लगा कि नाराज पत्नी कहीं रिश्तेदारी में कहीं गई होगी। रात में पत्नी के वापस न आने पर वह सुबह ट्रेन पकड़कर वह रवाना हो गया। पुलिस ने जब उसे फोन किया तो वह गोंडा पहुंच चुका था। गांव के लोगों ने बताया कि रविवार की दोपहर परिवार में किसी बात को लेकर विवाद हुआ। तभी से महिला बेटियों को साथ लेकर घर से निकल गई।

साड़ी में मां से बंधी भी दोनों बेटियां
पीपीगंज एसओ ने बताया कि मां और बेटियों की लाश निकलवाई गई। मां ने दोनों बेटियों को साड़ी में बांधकर खुद से लपेट लिया था। आशंका है कि उसने बेटियों संग पानी में छलांगकर जान दे दी। नदी में जहां पर लाशें मिली हैं। वहां से कुछ दूरी पर ही नदी का मोड़ है। मोड़ पर नदी की धारा तेज है। वहां पानी गहराई भी ज्यादा है। ​

महिला और उसकी दो बेटियों की लाश मिली है। उनकी पहचान कर ली है। पोस्टमार्टम के लिए शवों को भेजकर जांच – पड़ताल की जा रही है। रविवार की दोपहर परिवार में विवाद होने के बाद से महिला अपनी बेटियों संग निकली थी।
सत्य प्रकाश सिंह, थानाध्यक्ष, पीपीगंज

Leave a Reply