24 घंटे में दूसरा एनकाउंटर: सहजनवां के हिस्ट्रीशीटर को लगी गोली, लगड़ाते हुए पहुंचा जिला अस्पताल

0
1126

— गोरखनाथ पुलिस ने 50 लाख की रंगदारी मांगने में फरार 15 हजार के इनामी को किया गिरफ्तार
— चौरीचौरा पुलिस के हाथ लगा कुख्यात मिथुन, कार सहित भारी मात्रा में सामान भी हुआ बरामद

गोरखपुर। सीएम सिटी की पुलिस बदमाशों को सबक सिखाने के लिए कमर कस चुकी है। बीते 24 घंटे के भीतर पुलिस के असलहे गरजने के दो मामले सामने आए। सोमवार की रात दो बजे खोराबार इलाके के रामनगर कड़जहां में गोली दागकर भाग रहे सहजनवां के हिस्ट्रीशीटर प्रिंस पांडेय उर्फ प्रतीक को पुलिस की गोली लगी। उसके खिलाफ एक दर्जन से अधिक मुकदमे विभिन्न थानों में दर्ज हैं। इसके पूर्व रविवार की रात रामगढ़ताल इलाके में हिस्ट्रीशीटर अमित के साथ पुलिस की मुठभेड़ हुई। जवाबी कार्रवाई में उसके पैर में गोली लगी। 24 घंटे के भीतर दूसरी बार पुलिस ने बदमाश का हाफ एनकाउंटर किया। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक दिनेश कुमार पी ने कहा कि पुलिस पर गोली चलाने वाले कतई बख्शे नहीं जाएंगे।

सहजनवां पुलिस ने किया पीछा, रामनगर कड़जहां में घेराबंदी
एसपी सिटी सोनम कुमार ने बताया कि सोमवार की रात करीब 12 बजे इंस्पेक्टर सहजनवां को सूचना मिली। मुखबिर ने बताया कि डोहरिया कला निवासी हिस्ट्रीशीटर प्रतीक उर्फ प्रिंस पांडेय (28 ) सहजनवां से अपने साथियों संग खोराबार की ओर जा रहा है। इसलिए पुलिस ने हाइवे पर घेराबंदी शुरू कर दी। बदमाशों के भागने की सूचना वायरलेस सेट पर प्रसारित होने पर क्राइम ब्रांच, इंस्पेक्टर खोराबार राहुल सिंह टीम लेकर रामनगर कड़जहां में मुस्तैद हो गए। पुलिस को देखते ही प्रिंस ने गोलियां चलानी शुरू कर दी। दो राउंड गोली चलने पर उसके साथी फरार हो गए।

कई जिलों में लूट के मामले हैं दर्ज
पुलिस की गोली लगने से प्रिंस घायल हो गया। उसने तत्काल सरेंडर कर दिया। उसके पास से नाइन एमएम की एक पिस्टल और बाइक बरामद हुई। घायल प्रिंस के खिलाफ गोरखपुर के अलावा बस्ती के मुंडेरवा और कप्तानगंज, संतकबीर नगर के कोतवाली, महुली और देवरिया के गौरीबाजार और भलुअनी, गोरखपुर के शाहपुर, गगहा, सहजनवां, खजनी सहित अन्य थानों में लूट, हत्या का प्रयास, 7 सीएलए, आर्म्स एक्ट में 22 केस पहले से दर्ज हैं। उसके खिलाफ गौरीबाजार थाना में वर्ष 2013 में गैंगेस्टर की कार्रवाई की गई थी। वर्ष 2009 में गुंडा एक्ट की कार्रवाई हुई थी। 2008 में संतकबीर नगर कोतवाली पुलिस ने पहली बार उस पर हत्या के प्रयास का केस दर्ज किया था। 2020 में देवरिया की भलुअनी की पुलिस ने लूट और अवैध असलहे का मामला दर्ज किया था।


रविवार की रात एनकाउंटर में घायल हुआ अमित
रामगढ़ताल एरिया के नौकायन के पास रविवार की रात साढ़े 11 बजे पुलिस से अमित के साथ मुठभेड़ हुई। रामगढ़ताल के थाना प्रभारी जेएन सिंह को सूचना मिली। तीन बदमाश बाइक से कहीं जा रहे हैं। नौकायन के पास पुलिस ने जब उनको रोका तो अमित ने गोली चला दी। पुलिस की कार्रवाई में उसे गोली लगी। अमित ने पुलिस को बताया कि भागा हुआ बदमाश चिरइया और उसका एक अन्य साथी हैं।


गोरखनाथ पुलिस ने पकड़ा 15 हजार का इनामी
50 लाख रुपए की रंगदारी मांगने के मुकदमे फरार चल रहे 15 हजार के इनामी बदमाश को गोरखनाथ पुलिस ने गिरफ्तार किया। वह दो साल से फरार चल रहा था। गोरखनाथ के इंस्पेक्टर रामाज्ञा सिंह ने बताया कि अभियुक्त ने अपने साथियों संग मिलकर रंगदारी मांगी थी। 15 जून की सुबह सात बजे उसके बारे में सूचना मिली कि आरोपित कहीं जा रहा है। इसके आधार पर नर्सिंग होम के पास से पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया। मूल रूप से खजनी, नंदापार जैतपुर रवि कुमार चिलुआताल के मोहरीपुर, श्याम नगर कालोनी में रहता है। पुलिस का कहना है कि वह प्रतिष्ठित व्यापारियों को फोन करके उनसे रंगदारी मांगता है। उसके खिलाफ ठेकेदार ने मुकदमा दर्ज कराया था। ​रवि के पास से तमंचा और कारतूस भी मिला है। पूछताछ के आधार पर उसके दूसरे साथी संतकबीर नगर जिले के धनघटा, जिगिना निवासी ऋषि यादव की तलाश पुलिस कर रही है।

Leave a Reply