जानिए कैसे बदली ट्रैफिक व्यवस्था, वरना भरना पड़ सकता है जुर्माना

0
296

गोरखपुर। शहर को जाम के झाम से निजात दिलाने के लिए मोहद्दीपुर चौराहे को मॉडल के रूप में चुना गया गया है। इस चौराहे पर ट्रैफिक व्यवस्था सुधारने के लिए सोमवार को दिन में पुलिस अधिकारियों ने मंथन किया। एडीजी अखिल कुमार ने चौराहे का जायजा लिया। चार घंटे वहां मौजूद रहकर वह उन सभी संभावनाओं की तलाश करते रहे जिनसे जाम की समस्या खत्म हो सके। उनके साथ डीएम के विजेंद्र पांडियन और डीआईजी एसएसपी जोगेंद्र कुमार भी रहे। पुलिस अधिकारियों ने रामनगर करजहां में अस्थाई बस अड्डा बनाने की पहल की। मोहद्दीपुर चौराहे पर लेफ्ट लेन खाली कराने के लिए कोन लगवाया। एडीजी ने कहा है कि लेफ्ट में जगह खाली न होने पर चालान भी काटा जाएगा। लेकिन इसके पहले सभी को जानकारी दी जाएगी।

मोहद्दीपुर के लिए यह लिया गया फैसला
— मोहद्दीपुर चौराहे से हर मार्ग पर बाएं लेन को फ्रीन लेन घोषित किया गया। इस लेन में डिवाइडर लगाया जाएगा जिन लोगों को बाईं तरफ नहीं जाना होगा। वह लोग कोन के माध्यम से बंट जाएंगे। नियम तोड़ने वालों से भारी जुर्माना वसूलने के साथ ही कानूनी कार्रवाई भी की जाएगी।
— देवरिया से आने वाले बड़े वाहन और चार पहिया वाहन सुबह 9 बजे से दो बजे तक प्रवेश नहीं करेंगे। यह वाहन देवरिया बाईपास होते हुए शहर में प्रवेश करेंगे। केवल दो पहिया वाहन, ऑटो और एंबुलेंस को ही अनुमति होगी।
— महराजगंज से आने वाले वाहन जो जेल बाईपास होते हुए मोहद्दीपुर चौराहे पर आकर शहर में प्रवेश करते है। वह बिछिया तिराहे से कौवाबाग अंडरपास से शहर में प्रवेश करेंगे।

— अगले 15 दिन के अंदर देवरिया, कुशीनगर, बिहार को जाने वाले प्राइवेट बस जो विश्वविद्यालय के आसपास चलते हैं। उन्हें कड़जहां पुलिस चौकी के सामने शिफ्ट किया जाएगा।
— पीडब्लूडी को चौराहे के नवीनीकरण कार्य दिया गया है, तत्काल उस स्थान पर यातायात सुगम के लिए मरम्मत करेंगे।
— ऑटो को चौराहे से 200 मीटर आगे कूूड़ाघाट की तरफ ठहराव के लिए स्थान दिया गया है जहां से आगे सवारी उतारेंगे और बैठाएंगे।

Leave a Reply