सीएम योगी ने गोरखनाथ बाबा को चढ़ाई खिचड़ी, युवाओं में दिखा मकर संक्रांति का जबरजस्त क्रेज

0
10120

गोरखपुर। गोरक्षपीठाधीश्वर, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मकर संक्रांति पर गोरखनाथ बाबा को खिचड़ी चढ़ाई। परंपरा के अनुसार नेपाल के राजा की ओर से आई खिचड़ी चढ़ी। साथ ही बुधवार की ब्रह्म बेला में पारंपरिक खिचड़ी मेला शुरू हो गया। इस बार खिचड़ी पर्व पर युवाओं में जबरजस्त उत्साह नजर आया। गोरखनाथ बाबा को खिचड़ी चढ़ाने के लिए हजारों युवक रात से ही लाइन में लग गए थे। इसके पूर्व सीएम ने मंगलवार को खिचड़ी पर्व पर प्रदेशवासियों को हार्दिक बधाई और शुभकामनाएं दीं। मुख्यमंत्री ने कहा कि देश के विभिन्न भागों में मकर संक्रांति का विशिष्ट पर्व विभिन्न रूपों में मनाया जाता है। यह हमारे देश की समृद्ध विरासत एवं सांस्कृतिक एकता का प्रतीक है।


अलग- अलग रूपों में मनता है पर्व
सम्पूर्ण भारत में मकर संक्रांति विभिन्न रूपों में मनाई जाती है। उत्तर प्रदेश और बिहार सहित विभिन्न राज्यों में इसे खिचड़ी पर्व के रूप में मनाने की परंपरा है। इस दिन सूर्य धनु राशि से मकर राशि में प्रवेश करके उत्तरायण हो जाते हैं। उत्तरायण को सकारात्मकता का प्रतीक माना गया है। मकर संक्रांति पर सूर्यदेव की राशि में हुआ परिवर्तन अंधकार से प्रकाश की ओर अग्रसर होने का द्योतक है। यह सर्वविदित है कि प्रकाश अधिक होने से प्राणियों की चेतना एवं कार्यशक्ति में वृद्धि होती है। इसलिए पूरे भारतवर्ष में इस अवसर पर लोग विविध रूपों में सूर्यदेव की उपासना करते हैं। मकर संक्रांति के अवसर पर पवित्र नदियों एवं सरोवरों में स्नान, पूजा-अर्चना तथा दान का विशेष महत्व है। 

सुरक्षा के कड़े प्रबंध, सीओ प्रवीण को जिम्मेदारी

मेला परिसर में सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं। माघ मेला की तरह होने वाली भीड़ को देखते हुए सुरक्षा बढ़ा दी गई है। गोरखनाथ सर्किल के सीओ प्रवीण सिंह को सुरक्षा की कमान दी गई है। आतंकियों से निपटने के लिए एटीएस की तर्ज पर 20 कांस्टेबल का घातक दस्ता बनाया गया है। वाच टावर, ड्रोन और सीसीटीवी कैमरों से नजर रखी जा रही है। गोरखनाथ मेला परिसर को पॉलीथिन फ्री जोन घोषित किया गया है। मेले श्रद्धालुओं के लिए विशेष इंतजाम किए गए हैं। उनके ठहरने से लेकर खिचड़ी चढ़ाने में सहयोग के लिए वालंटियर्स लगे हैं। जगह- जगह कैम्प में लोगों की मदद की जा रही है।

उधर गोरखपुर के सांसद रवि किशन भी बेटी रीवा किशन और पत्नी प्रीति शुक्ला के साथ गोरक्षपीठ पहुँचे। गुरु गोरक्षनाथ को खिचड़ी चढ़ाई। चुनाव जीतने के बाद पहली बार रवि किशन ने गोरक्षपीठ में खिचड़ी चढ़ाई। रवि किशन परिवार संग ब्रह्मलीन महंत दिग्विजयनाथ और महंत अवेद्यनाथ की समाधि पर पुष्प अर्पित किया। इसके बाद गोरक्षपीठाधीश्वर, सीएम योगी आदित्यनाथ से मुलाकात की।

Leave a Reply