अब रेलवे स्टेशन और बस अड्डे पर होगी निःशुल्क कोरोना जांच

0
173

• रेलवे स्टेशन एवं रोडवेज बस अड्डों पर पब्लिक एनाउंसमेंट सिस्टम से लोगों को किया जाएगा कोरोना के प्रति जागरूक

• सीएमओ कार्यालय पर लगेगा पब्लिक एनाउंसमेंट सिस्टम

• सीएमओ ने टीम के साथ किया निःशुल्क जांच केंद्रों का निरीक्षण, स्थापित होगा बूथ

• कोरोना की सैंकेंड वेब की आशंका के मद्देनजर सतर्कता बरतने की अपील

गोरखपुर। कोरोना की दूसरी लहर के लौटने की आशंका में सभी तैयारियां की जा रही हैं। इसलिए रोडवेज के कचहरी बस अड्डा और रेलवे स्टेशन पर रोजाना कोरोना की निःशुल्क जांच की जाएगी। सुबह 10 बजे से अपराह्न 2.00 बजे तक यहां पर कोई भी कोरोना की एंटीजन जांच करवा सकता है। यहां जांच बूथ बनाया जाएगा। मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. श्रीकांत तिवारी, एसीएमओ डॉक्टर एनके पांडेय एवं डॉक्टर एके सिंह ने शनिवार को दोनों स्थानों का निरीक्षण किया। मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने बताया कि कोरोना के सैंकेंड वेब की आशंका के मद्देनजर सभी को सतर्कता बरतनी होगी और किसी को भी कोरोना के लक्षण नजर आएं या फिर वह कोरोना मरीज के संपर्क में रहा है तो उसे जांच अवश्य करा लेनी चाहिए। उन्होंने बताया कि रोडवेज के कचहरी बस अड्डा, रेलवे स्टेशन और सीएमओ कार्यालय पर भी पब्लिक एनाउंसमेंट सिस्टम लगा कर कोरोना एवं इसकी जांच की सुविधा के बारे में जानकारी दी जाएगी।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने जनपदवासियों को कोरोना से सतर्क रहने की अपील की है। उन्होंने कहा है कि नवम्बर और दिसम्बर में ढेर सारी शादियों के अवसर हैं जहां पर भीड़भाड़ इकट्ठा होगी। इन मौकों पर मॉस्क की उपयोगिता को समझना होगा। लोगों को चाहिए कि इन समारोहों में बहुत निकट होकर न बैठें, दो गज की दूरी बरकरार रखें। दूर से अभिवादन करें और मॉस्क का प्रयोग अवश्य करें। भीड़भाड़ में मॉस्क कभी न उतारें। अगर किसी को भी कोरोना का लक्षण नजर आए तो वह चिकित्सक से अवश्य सम्पर्क करे। उन्होंने बताया कि लोगों की सुविधा के लिए सर्वसुलभ स्थान पर कोरोना की निःशुलक जांच की व्यवस्था की गयी है। निरीक्षण के दौरान रेलवे स्टेशन पर कुल 16 लोगों ने जबकि बस स्टैंड पर कुल 23 लोगों ने शनिवार को कोरोना की जांच करवा ली थी। इस अवसर पर जिला स्वास्थ्य शिक्षा एवं सूचना अधिकारी केएन बरनवाल भी मौजूद रहे।

नहीं भूलना है यह व्यवहार
• हाथों को साबुन पानी से 60 सैकेंड तक सुमन-के फार्मूला से धूलें।
• मॉस्क का हमेशा प्रयोग करें। हाथ धुलने का इंतजाम न हो तो हाथों को सैनेटाइज करें।
• हाथों से आंख, मुंह और नाक को कभी न छूएं।
• भीड़भाड़ से बचें। आवश्यक हो तो पूरी सावधानी के साथ भीड़भाड़ वाली जगह पर जाएं।
• ज्यादा भीड़भाड़ वाली जगह पर जाएं तो आंखों की सुरक्षा के लिए फेसशील्ड का इस्तेमाल करें।
• बाहर की चीजें न खाएं। घर में बने पौष्टिक भोजन का सेवन करें।
• अगर बुखार हो तो प्रशिक्षित चिकित्सक से ही इलाज कराएं।

Leave a Reply