यूपी के गोरखपुर में दूसरी बार जिला पंचायत अध्यक्ष बनेंगी साधना, लगातार महिलाओं के हाथ में कमान

0
228

गोरखपुर। ​जिला पंचायत अध्यक्ष के रूप में भाजपा उम्मीदवार साधना सिंह का निर्वाचन तय हो गया है। शनिवार को कलेक्ट्रेट में हंगामे और सपा के पूर्व जिला पंचायत सदस्य की पिटाई के बीच सपा के प्रत्याशी नामांकन नहीं कर सके। एक अन्य महिला प्रत्याशी का पर्चा गड़बड़ी की वजह से खारिज हो गया। अध्यक्ष पद के लिए महज साधना सिंह का नामांकन हो सका। उनके निर्विरोध निर्वाचन को लेकर कार्यकर्ताओं में उत्साह है। शनिवार की शाम सिविल लाइंस स्थित पूर्व मंत्री, ​कैंपियरगंज के विधायक फतेह बहादुर सिंह के आवास पर समर्थकों का ताता लगा रहा। लोगों ने आवास पर पहुंचकर उनको जिला पंचायत अध्यक्ष साधना को बधाई दी। ​उधर, सपा नेताओं और कार्यकर्ताओं ने देर शाम तक प्रदर्शन किया। कुछ लोगों को हिरासत में लेकर पुलिस थाने चली गई। प्रत्याशी का नामांकन न होने की वजह से पार्टी अध्यक्ष ने सपा जिलाध्यक्ष नगीना साहनी को हटा दिया।

कार्यकर्ताओं ने मनाया जीत का जश्न
नामांकन पत्र दाखिल करने के बाद भाजपा प्रत्याशी साधना सिंह के समर्थकों ने जश्न भी मनाया। समर्थक जुलूस निकालकर लौट गए। कलेक्ट्रेट में पत्रकारों से बात करती हुईं साधना सिंह ने कहा कि उनके सामने कोई चुनौती नहीं है। वह विकास करने के लिए आई हैं और विकास करेंगी। पिछले कार्यकाल के दौरान जो कार्य शेष रह गए थे। उनको पूरा कराया जाएगा। उन्होंने कहा कि चुनौतियों से लड़ना हमारी आदत है, जो भी सामने आएंगी। उनका मुकाबला किया जाएगा। मेरी जीत सुनिश्चित है। जनता से जो वादे किए गए हैं उसे पूरा करेंगे।

सामान्य सीट पर महिला उम्मीदवार
गोरखपुर जिला पंचायत अध्यक्ष की सीट इस बार सामान्य हुई थी। तब यह हुआ कि इस बार किसी पुरुष उम्मीदवार को लड़ाया जाएगा। भाजपा के भीतर भी दो पुरुष जिला पंचायत सदस्यों के नाम की चर्चा हुई। सपा ने भी पुरुष उम्मीदवार की घोषणा की। बाद में साधना सिंह के चुनाव लड़ने की बात सामने आते ही बीजेपी के सभी नेता एकजुट हो गए। इससे छठवीं बार जिला पंचायत की कमान महिला अध्यक्ष के हाथ में आने की उम्मीद जती है।

इनको चुना गया जिला पंचायत अध्यक्ष
नाम पार्टी वर्ष
शोभा साहनी भाजपा 1995 से 2000
सुभावती पासवान सपा 2000 से 2005
चिंता यादव सपा 2005-2010
साधना सिंह बसपा 2010 से 2015
गीतांजलि यादव सपा 2015 से 2020
साधना सिंह- भाजपा 2021-2026 (निर्विरोध निर्वाचन तय)


साधना सिंह के नाम दूसरी बार निर्विरोध का रिकार्ड
जिला पंचायत अध्यक्ष का चुनाव निर्विरोध होने पर साधना सिंह के नाम एक और रिकॉर्ड दर्ज होगा। वह जिले की पहली महिला हैं जो दूसरी बार जिला पंचायत अध्यक्ष की कमान संभालेंगी। इसके पूर्व साधना 2010 से 2015 तक जिला पंचायत अध्यक्ष रह चुकी हैं। पिछली बार भी वह निर्विरोध चुनी गई थीं। दूसरी बार भाजपा का जिला पंचायत अध्यक्ष बनने का रास्ता साफ हुआ है।

Leave a Reply