“मुस्कुराइए, आप गोरखपुर में हैं” : अब कैसे मुस्कुरा रहा गोरखपुर शहर, पढ़ेगा पूरा देश

0
102

– सीएम योगी ने गत दिनों किया था विमोचन, अब देश के सभी बड़े नगरीय निकायों में भेजने की तैयारी

गोरखपुर। गोरखपुर की विकास गाथा बुकलेट के रूप में पूरे देश में पहुंचेगी। सीएम सिटी में पहले से मौजूद ऐतिहासिक धरोहरों के साथ नए विकास कार्यों का अनूठा संयोजन इस बुकलेट में किया गया है। बुकलेट तैयार कराया है नगर निगम गोरखपुर ने और नाम दिया है, ”मुस्कुराइए, आप गोरखपुर में हैं।” मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गत 29 दिसम्बर को इस बुकलेट का विमोचन किया था। अब उनकी सहमति के बाद गोरखपुर के महापौर इसे देश के सभी बड़े नगरीय निकायों में भेजने की तैयारी में जुट गए हैं।

सीएम ने किया विमोचन, बुकलेट में विकास गाथा
नगर निगम की तरफ से सीएम के हाथों विमोचित कराए गए बुकलेट में योगी आदित्यनाथ के मुख्यमंत्री बने के बाद गोरखपुर महानगर में विकास की तीव्रतम रफ्तार को सचित्र संकलित किया गया है। इसमें बीते करीब पांच साल के विकास कार्यों को ब्यौरा तो है ही, पहले से देश-दुनिया में पहचान रखने वाली विरासत-अमिट धरोहरों के बारे में भी जानकारी को प्रमुखता से स्थान दिया गया है। मसलन, इसमें ऐतिहासिक गोरखनाथ मंदिर समेत सभी प्राचीन धार्मिक स्थलों, विश्व प्रसिद्ध गीतप्रेस, गीता वाटिका, सोने-चांदी के ताजिये वाले इमामबाड़े के साथ मुस्लिम, सिख, जैन, इसाई समाज की महानगर में मौजूद विरासत को सहेजा गया है।

इसके साथ ही सीएम योगी की अगुवाई में महानगीय विकास के रूप में जो बदलाव आया है, उसे भी बुकलेट में सारगर्भित तरीके से प्रस्तुत किया गया है। खाद कारखाना, एम्स, बीआरडी मेडिकल कालेज में सुपर स्पेशियलिटी ब्लाक, रीजनल मेडिकल रिसर्च सेंटर, अत्याधुनिक प्रेक्षागृह, सौंदर्यीकृत रामगढताल, वाटर स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स, चिड़ियाघर, शानदार एयर कनेक्टिविटी, मजबूत रोड कनेक्टिविटी, राप्ती नदी पर गुरु गोरक्षनाथ घाट-रामघाट, महायोगी गोरखनाथ विश्वविद्यालय जैसे अनेकानेक कार्य उद्यम, चिकित्सा, ज्ञान, इंफ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट, मनोरंजन व पर्यटन के क्षेत्र में हुए हैं।

टूरिस्ट को गाइड करेगी बुक

गोरखपुर के मेयर सीताराम जायसवाल का कहना है कि शहर और बाहर से आने वाले सैलानियों के लिए इस बुकलेट को एक गाइड के रूप में तैयार किया गया है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की सहमति के बाद इस बुकलेट को अब देश के सभी नगर निगमों और नगर महापालिकाओं में भेजने की तैयारी की जा रही है ताकि महानगर में हुए विकास कार्य अन्य निकायों के लिए प्रेरणास्रोत बन सकें।

Leave a Reply