फर्जी पास पर बेच रहा था मछली, पुलिस के जाल में फंसा

0
15934

गोरखपुर। फर्जी पास बनाकर मछली बेच रहा दुकानदार और पास जारी करने वाले सहित दो लोग पुलिस के जाल में फंस गए। गोरखनाथ थाने की पुलिस ने मछ्ली कारोबारी मोहम्मद सरवर और पास बनाने वाले जनसेवा केेंद्र संचालक फिरोज आलम को गोरखनाथ पुलिस ने शुक्रवार को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने जन सेवा केंद्र संचालक के पास से एक फर्जी पास, एक कंप्यूटर, एक मानीटर,प्रिंटर, माउस, की- बोर्ड, सीपीयू, सहित अन्य सामान बरामद किया है।

एसडीएम सदर और ज्वॉइंट मजिस्ट्रेट गौरव सिंह सोगरवाल की तरफ से शर्तो के तहत आवश्यक दुकानों को खोलने के लिए पास ‌जारी किया गया है। कुछ दिनों से सूचना मिल रही थी कि कुछ दुकानदार फर्जी पास लगाकर दुकानें खोल रहे हैं। उन्होंने पुलिस को कार्रवाई का निर्देश दिया। थाना गोरखनाथ के इंस्पेक्टर चंद्रभान सिंह की टीम ने गोरखनाथ के हुमायूंपुर, कसाईबाड़ा, शाहिदाबाद निवासी मोहम्मद सरवर की दुकान पर छापा मारा। जांच में पता चला कि उसका पास फर्जी है। उसे प्रशासन की ओर से कोई पास नहीं जारी नहीं किया गया है। पुलिस ने मोहम्मद सरवर को गिरफ्तार कर लिया गया। पूछताछ में मोहम्मद सरवर ने बताया कि चक्सा हुसैन निवासी फिरोज आलम से उसने पास बनवाया। पुलिस ने फिरोज को भी गिरफ्तार कर लिया। पुलिस का कहना है कि फिरोज ग्राहक सेवा केेंद्र चलाता है। ज्यादा रुपए के चक्कर में उसने ओरिजनल ई- पास को कापी किया। प्रशानिक अधिकारी के हस्ताक्षर और मोहर की भी कापी बना ली। इसके बाद वह धड़ाधड़ नकली पास बनाने लगा। उसने गोरखनाथ के शकील, इरफान और एक अन्य का भी फर्जी पास बनाया है। इस मामले में दो अन्य का भी नाम प्रकाश में आया है। पकड़े गए दोनों आरोपितों के खिलाफ पुलिस ने जालसाजी, कूटरचना, साजिश रचने, आपदा प्रबंधन अधिनियम और महामारी अधिनियम के आरोप में केस दर्ज किया है। इसके पूर्व तिवारीपुर क्षेत्र में भी फर्जी पास बनाने वाला गैंग पकड़ा जा चुका है।

Leave a Reply