कांग्रेस- सपा ने सीएए के विरोध के लिए उपद्रवियों को फाइनेंस किया: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ

0
988

• मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने नागरिकता संशोधन कानून पर भाजपा द्वारा आयोजित रैली को किया सम्बोधित

• सीएए का दुष्प्रचार और आगजनी करके देश का चीरहरण किया जा रहा है, हम इस माहौल में कतई मौन नहीं रह सकते

• वामपंथ की तरह कांग्रेस, सपा और अन्य विपक्षी दल अपने अंतिम राजनीतिक पायदान पर खड़े हैं

गोरखपुर। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि हमारा दायित्व बनता है कि हम सबको समझाएं कि ‘सीएए नागरिकता देने का कानून है। भारत के किसी भी नागरिक के खिलाफ ये कानून नहीं है। ये उन घुसपैठियों के खिलाफ है जो आतंकवाद, उग्रवाद और अलगाववाद पैदा करते हैं।’ उन्होंने कहा कि कानून के विषय में दुष्प्रचार और आगजनी करके देश का चीरहरण किया जा रहा है। ये सब महिलाओं को आगे करके किया जा रहा है। हम इस माहौल में मौन नहीं रह सकते। जन- जन तक हम इसे लेकर जाएं, यह हमारा संवैधानिक दायित्व है। उन्होंने कहा कि नेहरू के समय में ही नागरिकता कानून बना था, लेकिन अब कांग्रेसी इसे स्वीकार करने को तैयार नहीं है। कांग्रेस और सपा का आचरण निंदनीय और गैर जिम्मेदाराना है। सीएए के विरोध में इन दलों ने उपद्रवियों को फाइनेंस किया है।


रविवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ नागरिकता संशोधन कानून पर भारतीय जनता पार्टी द्वारा चलाए जा रहे जन जागरुकता अभियान के तहत एमपी इंटर कॉलेज मैदान में भाजपा की महारैली को संबोधित कर रहे थे। इस दौरान उन्होंने कहाकि आजादी के बाद देश में वामपंथी दलों ने लोगों को गुमराह करने के लिए बहुत झूठ बोला। इस समय यही काम कांग्रेस, समाजवादी पार्टी और अन्य विपक्षी दल कर रहे हैं। जिस तरह से देश की जनता ने वामपंथ के झूठ को समझते हुए हमेशा के लिए उन्हें दफन कर दिया था, उसी तर्ज पर ये दल भी अपने अंतिम राजनीतिक पायदान पर खड़े हैं। उन्होंने कहा कि नागरिकता कानून से कांग्रेस को अपने पाप का पश्चाताप करने का मौका मिला था, लेकिन वह यहां भी चूक गई। इस कानून के समर्थन में हम सबको पोस्टकार्ड लिखकर प्रधानमंत्री मोदी का अभिनन्दन करना चाहिए।


नए भारत को स्वीकार नहीं कर पा रही है कांग्रेस
मुख्यमंत्री ने कहाकि भारत, दुनिया की ताकत बनकर उभर रहा है और दुनिया को अपनी ताकत का एहसास करा रहा है। जिन लोगों को ये अच्छा नहीं लग रहा है, वो लोगों को गुमराह कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि आज काफी परिवर्तन आया है। ईरान और अमेरिका में तनाव चल रहा है और अब दुनिया से आवाज आई है कि भारत मध्यस्थता करे तो तनाव खत्म हो सकता है। कांग्रेस इस नए भारत को स्वीकार नहीं कर पा रही है और पैसे देकर हिंसा भड़काने का षडयंत्र कर रही है।
मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि 2024 तक हर गरीब के घर तक शुद्ध पेय जल पहुंचाने का वादा प्रधानमंत्री मोदी पूरा कर रहे हैं। अनुच्छेद 370 को कश्मीर के अंदर कांग्रेस ने छल से लागू किया था और इसे समाप्त करने की मांग 1952 से उठ रही थी। किसी सरकार की हिम्मत नहीं थी कि इसे समाप्त कर पाए। इसे खत्म करने की हिम्मत प्रधानमंत्री मोदी ने दिखाई है।


अनुच्छेद 370 के कारण कश्मीर से बाहर हुए कश्मीरी
मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि अनुच्छेद 370 नहीं होता तो किसी माई के लाल में हिम्मत नहीं थी कि कश्मीरी पंडितों को कश्मीर से बाहर कर पाए। अब देश की जनता कहती है कि जिस दिन सरकार आदेश करेगी पाक अधिकृत कश्मीर भारत का हिस्सा होगा। भारत की सरकार ने अगर पीड़ित प्रताड़ित लोगों को शरण दी है तो कांग्रेस को इसका अभिनन्दन करना चाहिए। मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि 500 साल से हर हिन्दू चाहता था कि अयोध्या में भगवान श्रीराम के मंदिर का निर्माण हो। पहले मुगल, फिर अंग्रेज इस मामले को लटकाते रहे। कांग्रेस भी इस मामले को लटकाना चाहती थी, पर सुप्रीम कोर्ट ने ऐतिहासिक फैसला दिया। लोग कहते थे कि फैसला आएगा तो खून की नदियां बहेंगी पर हमने कहा कि एक मच्छर भी नहीं मरेगा।


मुख्यमंत्री योगी के आने के बाद बंद हो गईं सपा-बसपा की गुडंई की दुकानें: स्वतंत्र देव सिंह
इससे पहले भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने संबोधित करते हुए कहा कि राजनीति एक मिशन है, कोई व्यापार नहीं है। पार्टी में दायित्व पाए कार्यकर्ता नीचे के कार्यकर्ताओं का ध्यान रखें। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने अपने 10 साल के कार्यकाल में शंकराचार्य की गिरफ्तारी करवाई, राम सेतु और राम के अस्तित्व को मानने से इन्कार किया और हिन्दू आतंकवाद शब्द गढ़ा।स्वतंत्र देव सिंह ने कहा कि एक राजधानी से दूसरी राजधानी को जोड़ने का काम अटल जी ने किया। नेहरू हों या राजीव गांधी किसी ने सेना का सम्मान नहीं किया। इंदिरा ने सैकड़ों संतों की हत्या करवाई, राजीव गांधी ने सिखों के घरों में आग लगवाने के साथ ही उनकी हत्या करवाई। स्वतंत्र देव सिंह ने कहा कि रज्जू भैया, अशोक सिंघल जैसे लोग देश के लिए अपना सब कुछ दान कर देते हैं। राहुल गांधी ने कहा कि चौकीदार चोर है, जिस पर हिंदुस्तान के नौजवानों ने प्रधानमंत्री मोदी का साथ देते हुए कहा कि वह भी चौकीदार हैं। प्रधानमंत्री मोदी ने दूसरे देशों में पीड़ित लोगों के लिए कानून बनाया है, किसी भारतीय को नागरिकता से बेदखल करने के लिए नहीं। उन्होंने उन मुस्लिम युवाओं और मौलानाओं का अभिनंदन किया, जिन्होंने कानून को समझा और इसका समर्थन किया है। स्वतंत्र देव सिंह ने कहा सपा-बसपा के शासनकाल में गुंडागर्दी होती थी। मुख्यमंत्री योगी के आने के बाद इन लोगों की गुंडई की दुकानें बंद हो गईं। सपा-बसपा अंगूठे से सिर तक परिवार समेत भ्रष्टाचार में डूबे थे। यादवों और दलितों का अगर कहीं सम्मान है तो बीजेपी में है।

Leave a Reply