गोरखपुर पहुंचे अखिलेश यादव बोले: बाबा सबकी गर्मी निकालते हैं, इस बार गोरखपुर के लोग उनका भाप निकाल देंगे

0
480

गोरखपुर। पिपराइच विधानसभा क्षेत्र के बांसथान में सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष और पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने जनसभा को संबोधित किया। उन्होंने मां वामंत को प्रणाम करते हुए अपना संबोधन शुरू किया। उन्होंने कहा कि बामन माता की धरती को नमन करता हूं। ऐसी ऐतिहासिक और पौराणिक गाथाएं यहां की धरती से शुरू हुई हैं। मैं देख रहा हूं, मैदान पूरा भरा दिखाई दे रहा है। सड़क से लेकर मैदान तक और नदी के दूसरी पार भी आपार जनसमूह है। यह एहसास दिला रहा है, यह जोश बता रहा है कि इस बार समाजवादी ऐतिहासिक वोटों से जीतने जा रही है। न केवल यह विधानसभाएं बल्कि पूरे गोरखपुर की सभी 9 सीटें समाजवादी पार्टी जीतने जा रही है। बाबा मुख्यमंत्री जी ने जो गोरखधंधा चला रखा था, इस बार गोरखपुर के लोग ही उनके गोरखधंधे को बंद करने का काम करेंगे।

रथ लेकर आया गोरखपुर, तभी लगा बनने जा रहा इतिहास
पिपराइच के सपा प्रत्याशी अमरेंद्र निषाद और कैंपियरगंज की उम्मीदवार काजल निषाद के पक्ष में जनसभा को संबोधित करते हुए अखिलेश ने कहा कि अखिलेश यादव ने कहा कि इतना समर्थन, इतनी बड़ी संख्या में जो लोग आए हैं, वे बता रहे हैं कि इस बार भाजपा का सफाया होने जा रहा है। मैं तो गोरखपुर कई बार आया हूं। मैं जब पिछली बार जब समाजवादी विजय रथ लेकर आया था, तभी मैंने स्वीकार कर लिया था कि इस बार गोरखपुर की जनता कुछ नया इतिहास बनाने जा रही है। खास बात यह है कि आपको छठें चरण में वोट डालने का मौका मिला है।

छठें चरण में इन्हें बहुत कुछ याद आ जाएगा
मुझे लगता है कि इस बार इन्हें छठें चरण में बहुत सारी चीजें याद आ जाएंगी। वैसे तो गोरखपुर के लोग काफी अच्छे हैं। बहुत सीधे हैं। इतना सम्मान और प्रेम मुझे कहीं और नहीं मिलता, जिनता यहां मिलता है। लेकिन बाबा मुख्यमंत्री कहते हैं कि गर्मी निकाल देंगे। मुझे तो लगता है कि यहां का नौजवान, यहां का गरीब मजदूर इनकी ही भाप निकाल देगा। वैसे आप क्यूं न निकालें , तीन साल से भर्ती बंद पड़ी है। हमारे नौजवान जो वर्दी पहनकर देश की रक्षा करना चाहते थे, लेकिन उनकी भर्ती नहीं होने दिया। मैं कहकर जा रहा हूं, समाजवादी सरकार आएगी तो फौज में भर्ती और पुलिस में भर्ती निकाली जाएगी।

बाबा लोगों को झूठ नहीं बोलना चाहिए!
वैसे बाबा लोगों को झूठ नहीं बोलना चाहिए। और अगर बाबा योगी हैं तो उन्हें और झूठ नहीं बोलना चाहिए। लेकिन जिस तरह से भाजपा के लोग झूठ बोल रहे हैं, उस तरह से दुनियां के किसी भी राजनीतिक पार्टी के नेता झूठ नहीं बोलते होंगे, जैसे बाबा मुख्यमंत्री और भाजपा के नेता बोल रहे हैं। इनके अगर छोटे नेताओं के भाषण सुनें तो वे छोटा झूठ बोल रहे हैं और इनके बड़े नेता बड़ा झूठ बोल रहे हैं और जो सबसे बड़े नेता सबसे बड़ा झूठ बोल रहे हैं। किसानों की आए दोगुनी नहीं हुई, खाद नहीं मिली। बोरियों से 5 किलो खाद चोरी होने लगी। इन्होंने कहा था हवाई चप्पल पहनने वाला हवाई जहाज से चलेगा, लेकिन इन्होंने हवाई जहाज ही बेच दिया। हवाई जहाज खड़ा होने वाला हवाई अड्डा बेच दिया। पानी के जहाज बेच दिए। बंदरगाह बेच दिए। रेलगाड़ी बेच दी, रेलवे स्टेशन की जमीनें बेच दी। वो कहावत आपने सुनी होगी, न रहेगा बांस…न बजेगी बांसुरी। क्योंकि जब सब बिक जाएगा तो नौकरी कहां से मिलेगी। यह लोग 5 साल मलाई खाते रहे, 5 साल खजाना लूटते रहे। 11 लाख खाली पदों पर भर्तियां तक नहीं निकाली। 3 साल में बच्चों की शिक्षा और स्कूल बर्बाद हो गई। लेकिन हम सबकी मदद करेंगे। 69000 घोटाला भी हम ठीक करेंगे। जिससे हमारे युवाओं को हक और सम्मान मिल सके।

अखिलेश ने गोरखपुर के लोगों को सुनाई मतलब की बात
संबोधन में
अखिलेश ने कहा कि गोरखपुर के लोगों अब मतलब की बात सुनो…हमारे और आपके बाबा मुख्यमंत्री कहते हैं। हम 12 बजे सोकर उठते हैं, जबसे उन्होंने 12 बजे सोकर उठने की बात कही है, तभी से हमने भी उनके घर की तरफ नजर रखनी शुरू कर दी है। वहां आजकल शाम को कभी— कभी धुंआ उठता नजर आता है और अभी कुछ पुताई वाले हमें मिल गए। हमने उनसे पूछा कि कहां जा रहे हो…तो उन्होंने बताया कि हम लोग मुख्यमंत्री आवास जा रहे हैं, वहां जो धुएं के काले धब्बे जम गए हैं, उन्हें हम लोग पुताई करके साफ करने जा रहे हैं। इसका मतलब गोरखपुर का एक— एक वोट इस बार साइकिल पर पड़ने जा रहा है।

11 मार्च को गुल्लू के लिए बिस्किट लेकर आएंगे बाबा मुख्यमंत्री
हम और आप सब परिवार वाले हैं, हम लोग जब कभी घर लौटते हैं तो कुछ न कुछ सामान लेकर आते हैं। इसलिए हम परिवार वालों को सलाह दे रहे हैं कि जब आप घर लौटते हैं तो कुछ न कुछ बच्चों के लिए, कुछ न कुछ घर वालों के लिए लेकर आते हैं। इसलिए हम अपने बाबा मुख्यमंत्री से कहना चाहते हैं कि जब आप 11 मार्च को गोरखपुर वापस आओ तो अपने गुल्लू के लिए बिस्किट जरूर लेते आना। हमने तो नहीं देखा गुल्लू…आपने देखा क्या गुल्लू। सुना हूं यह भी बाबा मुख्यमंत्री का एक प्रिय जानवर है।

बेहतर होगी एंबुलेंस की व्यवस्था
यह जोश बता रहा है, इसबार साइकिल की रफ्तार को कोई नहीं रोक सकता। समाजवादी सरकार में 300 यूनिट बिजली ​फ्री मिलेगी। सिंचाई के लिए किसानों को भी कोई बिल नहीं देना पड़ेगा। पुरानी पेंशन भी बहाल होगी। समाजवादी सरकार बनेगी तो तीन महीने के अंदर सभी जातियों को गिनने का काम कराएगा जाएगा। ताकि पता चले कि किस जाति के कितने लोग हैं। गरीबों को मुफ्त इलाज होगा। एंबुलेंस की व्यवस्था और भी बेहतर बनाई जाएगी। अंत में पिपराइच विधानसभा से अमरेंद्र निषाद कैंपियरगंज विधानसभा से काजल निषाद को भारी मतों से जिताने की अपील उन्होंने की। जिलाध्यक्ष अवधेश यादव ने पार्टी नेताओं कार्यकर्ताओं और जनता का आभार जताया।

माइक दे गया दगा, बोलने में हुई समस्या
पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने जब बोलना शुरू किया तो माइक दगा दे गया। डायस पर लगे माइक के काम न करने पर दूसरा माइक लेकर उन्होंने बोलना शुरू किया। समर्थकों के जोश के बीच हल्ला करने से उनको संबोधन में भी समस्या हुई। इस दौरान काजल निषाद ने लोगों को शांत रहने का इशारा भी किया। अति उत्साहित कार्यकर्ता साइकिल हाथ में लेकर दिखाते रहे। जोरदार नारों के बीच अखिलेश यादव ने अपनी बात रखी।

Leave a Reply