महिला ब्लाक प्रमुख के भाई की पीट—पीटकर हत्या, पानी मेंं मिली लाश

0
1383

गोरखपुर। चौरीचौरा के आमकोल गुरुवार की रात मनबढ़ों ने 36 वर्षीय दिनेश यादव की पीट—पीटकर हत्या कर दी। शुक्रवार की सुबह उसका शव गांव के पास खेत के गड्ढे में भरे पानी में मिला। युवक की बहन शशिकला यादव सरदानगर की ब्लाक प्रमुख हैं. उसके ममेरे भाई केशव यादव ब्रह्मपुर के ब्लाक प्रमुख रह चुके हैं। युवक के पिता का आरोप है कि प्रधान मनोज के ललकारने पर उनके गांव के लोगों ने दिनेश की हत्या करके लाश को पानी में डाल दिया गया। घटना की सूचना पर एसएसपी डॉ. सुनील गुप्ता, एसपी नार्थ अरविंद कुमार पांडेय, सीओ चौरीचौरा रचना मिश्रा, एसएचओ चौरीचौरा सूर्यभान सिंह सहित भारी फोर्स गांव में पहुंचा। तनाव को देखते हुए पीएसी लगा दी गई है। आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करके पुलिस उनकी तलाश कर रही है।


ब्रह्मभोज में जाने के लिए घर से निकला दिनेश
आमकोल निवासी दिनेश यादव के पिता डाक्टर यादव पुलिस को तहरीर दी। बताया कि गुरुवार की शाम करीब सवा सात बजे वह बेटे दिनेश, नाती विभ्राट और एक रिश्तेदार पप्पू यादव के साथ गांव के दूसरे टोले पर आयोजित एक व्यक्ति के घर ब्राम्हभोज में शामिल होने जा रहे थे। पंडित टोला जाने वाली नहर पुलिया पर मौजूद प्रधान मनोज ने दिनेश को देखते ही कहा इसको मारो। इसकी बहन ब्लॉक प्रमुख हो गई है। तभी राजेंद्र पुत्र जितई, लालजी पुत्र राजेंद्र, व्यासमुनि पुत्र रोपन, शिप्पू पुत्र बेचन, रामनरेश पुत्र पदारथ, मुंजेश पुत्र रामजी, होरिल पुत्र धनई ​सहित चार— पांच लोगों ने दिनेश को खींच लिया और उसे पीटने लगे। दिनेश को चोट लग गई हैं। सुबह नौ बजे दिनेश का शव एक खेत में पानी भरे गड्ढे में बरामद हुआ।

घटना को लेकर यह है चर्चा, हुआ था झगड़ा
आमकोल में दिनेश यादव की हत्या को लेकर पुलिस की जांच में एक अन्य बात सामने आई है। लोगों ने बताया कि वह ब्रह्भोज में शामिल होने जा रहा था। तभी सड़क किनारे कुछ महिलाएं बैठी नजर आईं। उसने एक किशोरी से सड़क पर बैठने को लेकर मना किया। तभी पास के गांव के युवक आ गए। उन लोगों ने छेड़छाड़ का आरोप लगाकर दिनेश को पीटना शुरू कर दिया। वह भागकर रमेश यादव की घर की तरफ चला गया। रमेश के डांटने पर हमलावर युवक भी चले गए। थोड़ी देर के बाद जब दिनेश फिर वहां से निकला तो रास्ते में घेरकर लाठी, डंडों से उसकी पिटाई करने लगे। पीटकर उसे पानी में फेंक दिया। उधर परिजन रातभर दिनेश की तलाश करते रहे। दिनेश की पिटाई की सूचना पर हलका दरोगा मौके पर पहुंचे। लेकिन मारपीट समझकर उन्होंने दोनों पक्षों पर थाने बुलाया। दिनेश की हत्या की सूचना पर गांव से लेकर चौरीचौरा थाना तक नेताओं का जमावड़ा लगा रहा। पूर्व ब्लॉक प्रमुख ब्राम्हपुर एवं मृतक के ममेरे भाई केशव यादव, ब्लॉक प्रमुख सरदारनगर के प्रतिनिधि हरेंद्र यादव सहित दर्जनभर से अधिक सपा, बसपा और अन्य पार्टियों के नेता पहुंचे। सभी ने आरोपितों के खिलाफ अविलंब कड़ी कार्रवाई की मांग एसएसपी और अन्य अधिकारियों से की।

“आमकोल के प्रधान समेत आठ नामजद और कुछ अज्ञात के खिलाफ तहरीर मिली है। तहरीर के आधार पर केस दर्ज कर कार्रवाई की जा रही है। सभी आरोपित गांव छोड़कर फरार हैं। उनकी गिरफ्तारी के लिए टीम लगी है। दो पक्षों के बीच विवाद होने से गांव में पीएसी और पुलिस बल तैनात किया गया है।”
डॉ. सुनील गुप्ता, एसएसपी, गोरखपुर

Leave a Reply