कौआबाग का अंडरपास कम करेगा मोहद्दीपुर का ‘रश’, फरवरी में शुरू होने की उम्मीद

0
1109

गोरखपुर। मोहद्दीपुर चौराहे पर रोज होने वाली भीड़ से फरवरी में राहत मिल जाएगी। यहां से गुजरने वाली आधी ट्रैफिक कौवाबाग रेलवे लाइन के नीचे से आवागमन करने लगेगी। कौआबाग अंडरपास का निर्माण अंतिम चरण में है। फरवरी में इसके आम जनता के लिए खुलने की उम्मीद है। आम जनता के लिए खुल जाएगा। क्रासिंग पर रेल लाइन के नीचे लगभग 43 मीटर लंबा बाक्स सेट कर दिया है। दक्षिणी एप्रोच मार्ग और शेड लगभग बनकर तैयार हो गए हैं। उत्तर की तरफ भी जोरशोर से कार्य चल रहा है। जनवरी तक एप्रोच मार्ग के सभी कार्य पूरे कर लिए जाएंगे। गोरखपुर के सांसद रवि किशन ने अंडरपास के निर्माण कार्य का निरीक्षण किया। उन्होंने हर हाल में फरवरी तक कार्य पूरा कर इसे खोलने के निर्देश दिए।


आधुनिक शेड लगाने का कार्य जारी
एप्रोच मार्ग पर आधुनिक शेड लगाने का काम जारी है। शेड लग जाने से अंदर अंधेरा नहीं होगा। बारिश होने पर पानी भी जमा नहीं होगा। पानी निकालने के लिए दो बड़े पंप लगाए जाएंगे। इसके एप्रोच मार्ग के बाहरी तरफ पौधे लगाए जा रहे हैं। ताकि आसपास हरियाली बनी रहे। अंदर एप्रोच मार्ग की दोनों दीवारों पर पेंटिंग बनाई जाएगी। रेलवे प्रशासन ने दीवारों का उपयोग आम लोगों को पर्यावरण संरक्षण और स्वच्छता का संदेश देने की तैयारी की है।


आयोजित होगी चित्रकारी प्रतियोगिता
इसके लिए रेलवे ने खास योजना तैयार की है। जनवरी के अंतिम सप्ताह में एक प्रतियोगिता आयोजित की जाएगी। इसमें विश्वविद्यालय सहित कई कालेजों के छात्रों को पर्यावरण और स्वच्छता से संबंधित चित्रकारी के लिए आमंत्रित किया जाएगा। प्रतिभागियों को पुरस्कार देकर उनका सम्मान किया जाएगा। अंडरपास का निर्माण करीब 15 करोड़ रुपए की लागत से हो रहा है। इसके बन जाने से हजारों लोगों की राह आसान हो जाएगी। क्रासिंग बंद होने से रेलवे कर्मचारी, आमजन को असुरन से धर्मशाला और चारफाटक ओवरब्रिज होकर आवागमन करना पड़ता है।
पूर्वोत्‍तर रेलवे के सीपीआरओ पंकज कुमार सिंह का कहना है कि कौवाबाग अंडरपास की फिनिशिंग का काम तेजी से चल रहा है। इसे जल्द ही पूरा कर लिया जाएगा। इसके बाद इसे जनता के लिए खोल दिया जाएगा।

Leave a Reply