आज जरा संभलकर! कहीं उतर ना जाए इश्क़ का भूत

0
2370

गोरखपुर। वेलेंटाइन डे (14 फरवरी) पर शुक्रवार को पुलिस की सतर्कता बढ़ी रहेगी। इश्क़ में डूबे प्रेमी युगल को
पुलिस रोकेगी नहीं, लेकिन सार्वजनिक स्थानों पर किसी तरह की अश्लील हरकत पाए जाने पर हवालात में डाल देगी। टीनएज पर पुलिस की खास नजर नजर रहेगी। पार्क में घूमने गए लोगों के साथ शोहदे कोई अभद्रता ना करें। इसकी भी निगरानी पुलिस करेगी। शहर में 13 जगहों पर पुलिस फोर्स की तैनाती की गई है। इसके अलावा सार्वजनिक स्थानों पर एंटी रोमियो टीम गस्त करेगी। रामगढ़ झील के
नौका विहार, कुसम्ही जंगल स्थित बुढ़िया माई मंदिर, लालडिग्गी, यूनिवर्सिटी के पंत पार्क, सिनेमा रोड, गोलघर, विनोद वन, रेल म्यूजियम सहित 13 जगहों पर पुलिस की मौजूदगी का इंतजाम किया गया है। गुरुवार को भी एंटी रोमियो दस्ता गस्त पर रहा।

14 फरवरी को वैलेंटाइन डे

कई सौ साल पहले रोम में राजा क्‍लॉडियस का साम्राज्य था। वह अपने पराक्रम, वीरता और श्रेष्ठता के लिए दुनिया भर में मशहूर था। एक दिन क्‍लॉडियस ने अपने साम्राज्य को विश्व शक्ति बनाने के लिए अजीबो- ग़रीब आदेश जारी कर दिया। कहा कि पुरुष को शादी नहीं करना है। इस बारे में क्‍लॉडियस का कहना था कि शादी करने से पुरुष की बौद्धिक और शारीरिक शक्ति का नाश हो जाता है। ऐसे में रोम की वीरता और श्रेष्ठता बनाए रखने के लिए पुरुषों को अविवाहित रहना ज़रूरी है। पूरे रोम में हाहाकार मच गया। महिलाओं ने विरोध किया। संत वैलेंटाइन ने क्‍लॉडियस के फ़रमान का विरोध किया। उन्होंने राजा के खिलाफ जाकर रोम के लोगों को शादी करने के लिए प्रेरित किया। सैनिकों और अधिकारियों समेत आम लोगों की शादी करवाई। इससे नाराज क्लॉडियस ने 14 फरवरी सन् 269 को संत वैलेंटाइन को गिरफ्तार कराकर सूली पर चढ़ा दिया। उसी दिन से वैलेंटाइन डे मनाने की प्रथा की शुरुआत मानी जाती है।

लोगों की सुरक्षा के लिए सभी प्रमुख जगहों पर पुलिस की ड्यूटी लगाई गई है। पुलिस किसी को बेवजह परेशान नहीं करेगी लेकिन कहीं पर भी कोई आपत्तिजनक काम करेगा तो कार्रवाई की जाएगी।”
डॉ. कौस्तुभ, एसपी सिटी, गोरखपुर

Leave a Reply