होम क्वारंटीन परिवारों पर नजर रख रहीं निगरानी समितियां

0
11228

कोरोना की रोकथाम में निगरानी समितियों की अहम भूमिका, लोग करें सहयोग-सीएमओ

गांव में ग्राम प्रधान, शहर में वार्ड सभासद की देखरेख में काम कर रही समितियां

गोरखपुर। लॉकडाउन में बड़ी तादाद में वापस लौट रहे प्रवासियों पर नजर रख कर कोरोना संक्रमण को फैलने से रोका जा सकता है। जिले की निगरानी समितियों ने काम शुरू कर दिया है। गांवों में ग्राम प्रधान और शहर में वार्ड सभासद की देखरेख में इन समितियों की भूमिका अहम हो गई है। सीएमओ डॉ. श्रीकांत तिवारी ने कहा है कि कोरोना की रोकथाम में इन समितियों की भूमिका महत्वपूर्ण है। इसलिए लोगों को इनके साथ सहयोगात्मक रवैया अपनाना चाहिए। खासतौर से ग्रामीण क्षेत्रों में विशेष सहयोग की अपेक्षा है।

नियमों का पालन कर रहें सुरक्षित
निगरानी समितियों के प्रमुख कार्य में प्रवासियों और होम क्वारंटीन परिवारों पर नजर रखना शामिल है। पिपराईच ब्लॉक के ग्राम रिठिया के निगरानी समिति के अध्यक्ष संजय पटेल (ग्राम प्रधान), सचिव बृजमोहन राय (ग्राम विकास अधिकारी), प्रेमचंद यादव (लेखपाल), सदस्य सुशीला देवी (ग्राम रोजगार सेवक), मीना देवी (आंगनबाड़ी कार्यकर्ता), क्रांति देवी (आंगनबाड़ी कार्यकर्ता), कुसुम देवी (आशा बहू) और कलमी देवी (आशा बहू) ने बताया कि उनकी समिति इस बात पर नजर रख रही है कि होम क्वारंटीन प्रवासी, नियमों का पालन करें। किसी की तबियत बिगड़ने पर तत्काल हेल्थ टीम को सूचना दी जाती है।

कोरोना से बचाव की जानकारी दे रही निगरानी समिति

सबको बता रहे अहमियत
ग्राम पंचायत कटघर की निगरानी समिति की अध्यक्ष ग्राम प्रधान शीला सिंह और समिति से जुड़े आलोक, विजय गुप्ता, अभिजीत, सुनील कुमार, राजन, कुसुम सिंह, राजकुमारी, अंजू, प्रभा, संगीता, नन्हें, रामपतेश, गोविंद भारती और राम अशीष यादव का कहना है कि प्रतिदिन सोशल डिस्टेंशिंग का पालन करते हुए समिति की बैठक होती है। इसमें ताजा हालात की समीक्षा की जा जाती है। प्रवासियों को होम क्वारंटीन का महत्व भी बताया जाता है।

कोविड-19 के बारे में देते जानकारी
भटहट ब्लॉक के चकखान मोहम्मद में निगरानी समिति की अध्यक्ष सविता देवी और समिति से जुड़े नागेंद्र, पूनम, शकुंतला, साधना, विद्यामति, मंजुला, कुसुमलता, श्रीप्रकाश, भवन, राहुल, मोहम्मद इम्तियाज, सुबोध कुमार और रागिनी ने बताया कि समिति के लोग होम क्वारंटीन लोगों को कोविड-19 के बारे में जानकारी देते हैं।

ब्लॉक स्तर पर भी काम करती है समिति
कोविड-19 की रोकथाम के लिए ब्लॉक स्तर की निगरानी समिति भी बनी है। खोराबार ब्लॉक में क्षेत्रीय विकास अधिकारी कविता अवस्थी की देखरेख में निगरानी समिति कार्य कर रही है। उन्होंने बताया कि समिति में प्रभारी चिकित्साधिकारी डॉ. राजेश कुमार, ब्लॉक एजुकेशन ऑफिसर (बीईओ) निधी श्रीवास्तव, एडीओ पंचायत अरविंद सिंह, सीडीपीओ पूनम रानी शामिल हैं। ग्राम निगरानी समितियों से समन्वय स्थापित कर कार्य किया जा रहा है।

निगरानी के लिए जन सहयोग आवश्यक
चरगांवा ब्लॉक के रजहीं ग्राम की आंगनबाड़ी कार्यकर्ता और निगरानी समिति की सदस्य गीतांजलि मौर्या का कहना है कि समितियों की सफलता जनसहयोग पर निर्भर करती है। उनके गांव में निगरानी समिति का व्हाट्सएप ग्रुप भी बना हुआ है जिस पर नई सूचनाएं दी जाती हैं। ब्लॉक के सीडीपीओ प्रदीप कुमार श्रीवास्तव का कहना है कि होम क्वारंटीन लोगों के घरों पर फ्लायर चस्पा करने और उन्हें जागरूक करने में बतौर सदस्य आंगनबाड़ी कार्यकर्ता, आशा कार्यकर्ताओं के साथ समन्वय स्थापित कर रही हैं।

Leave a Reply