बुढ़वा मंगल पर उमड़ा श्रद्धालुओं का रेला, भोर के चार बजे से चढ़ने लगी थी खिचड़ी

0
127

गोरखपुर। गुरु गोरखनाथ मंदिर बुढ़वा मंगल (मकर संक्रांति के बाद पड़ने वाले दूसरे मंगलवार) के अवसर पर श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ी। जीवन की मंगल कामना के लिए लोगों ने गोरक्षनाथ बाबा को खिचड़ी चढ़ाई। लोग भोर के चार बजे ही पहुँच गए थे। बाबा की पूजा के बाद लोगों ने परिवार संग मेले का आनंद लिया। गुनगुनी धूप होने से मेले में खूब भीड़ रही।सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लेने के लिए डीआईजी मोदक राजेश, एसएसपी डॉ. सुनील गुप्ता, एसपी सिटी डॉ. कौस्तुभ, सीओ प्रवीण सिंह सहित भारी पुलिस बल मौजूद रहा।

भाेर से ही लग गई थी लाइन, दोपहर तक लगा रहा तांता
बुढ़वा मंगल पर ब्रह्म मुहूर्त में सुबह चार बजे मंदिर के कपाट खोल दिए गए। कपाट खुलने के पहले से ही मंदिर के गेट पर दूर-दराज से आए श्रद्धालु लाइन खड़े थे। दर्शन शुरू होने पर बाबा गोरखनाथ, हर-हर महादेव, मां गंगा और गो-माता के जयघोष से मंदिर परिसर गूंज उठा। उसके बाद लोग खिचड़ी चढ़ाते रहे।

गोरखनाथ मंदिर के पुजारियों का कहना है कि जो श्रद्धालु किसी कारणवश मकर संक्रांति के दिन बाबा गोरखनाथ को खिचड़ी नहीं चढ़ा पाते हैं, वह बुढ़वा मंगल के दिन चढ़ाते हैं। इसकी मान्यता है कि बुढ़वा मंगल के दिन बाबा को खिचड़ी चढ़ाने पर उतना ही पुण्य मिलता है, जितना मकर संक्रांति को। इसलिए श्रद्धालुओं की भीड़ को देखते हुए सुरक्षा के प्रबंध किए गए थे।

Leave a Reply