Gorakhpur: सीएम योगी का आशीर्वाद, 1174 बेटियों के हाथ हुए पीले

0
1906

गोरखपुर। बेटी नीलम के विवाह को लेकर कई रिश्ता देख चुके जगदीशपुर भलुआन (विकास खंड कौड़ीराम) के राम प्यारे काफी चिंतित थे, बेटी के हाथ पीले करने के लिए खर्च आड़े आ जाता था। उन्होंने बहुत कोशिश की कि कुछ पैसे रिश्तेदारों से भी मदद में मिल जाएं, तो उनकी जिंदगी भर की इच्छा पूरी हो जाए। इसी बीच उन्हें जब मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की सामूहिक विवाह योजना की जानकारी हुई, तो उन्होंने ब्लाक स्तर से आवेदन किया और उनकी बेटी के हाथ पीले हुए। बात सिर्फ राम प्यारे की ही नहीं है। इनके अलावा राजू की बेटी सविता, जगदीशपुर भलुआन, राजू की बेटी शीलू ग्राम हरैया बसावनपुर, कौड़ीराम, रामनवल की बेटी अनुजा सहित सैकड़ों बेटियां शामिल हैं।
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सामूहिक विवाह योजना के तहत न सिर्फ बेटियों के हाथ पीले करा रहे हैं, बल्कि उनके विवाह आयोजनों में शामिल होकर उन्हें आशीर्वाद भी दे रहे हैं। जिले में वित्त वर्ष 2017-18 में 81, वित्त वर्ष 2019-20 में 671 और वित्त वर्ष 2020-21 में 622 सामूहिक विवाह हुए हैं। ऐसे में जिले में कुल 1174 विवाह हो चुके हैं। सीएम योगी की ओर से विवाह में करीब 51 हजार की मदद दी जाती है।

लाभार्थियों की संख्या में 200 फीसदी का इजाफा
गरीब परिवारों को अपने बेटे बेटियों को शादी ब्याह में आए दिन कई अड़चनों और आर्थिक समस्याओं का सामना करना पड़ता है। सीएम योगी आदित्यनाथ ने ऐसे गरीब परिवार की बेटे और बेटियों के ब्याह में आने वाली आर्थिक बाधाओं को पीड़ा के रूप में महसूस किया। योगी सरकार ने ये संकल्प लिया कि वह समाज की हर उस बेटी के हाथ पीले कराएगी, जिसके परिवारीजन ऐसा कर पाने में असमर्थ होंगे। वर्ष 2017 में सत्ता संभालते ही सीएम योगी ने पूरे प्रदेश को सामूहिक विवाह योजना की सौगात दे दी। सिर्फ गोरखपुर में ही इस योजना के लाभार्थियों की संख्या में लगभग 200 प्रतिशत का इजाफा हुआ है।

वधू के खाते में 35 हजार की धनराशि
इस योजना के तहत शादी के बाद वधू के खाते में 35 हजार की धनराशि अलग से भेजी जाती है। ब्लॉक स्तर पर सामूहिक विवाह के इस आयोजन में क्षेत्रीय जनप्रतिनिधि और प्रशासनिक अधिकारी हिस्सा लेते हैं और उन्हीं की देखरेख में यह विवाह संपन्न होता है। अभी कुछ दिनों पहले 11 मार्च 2021 को गोरखपुर में भी सामूहिक विवाह का आयोजन कौड़ीराम विकास खंड में किया गया था। इस विवाह आयोजन में जनप्रतिनिधियों ने भी नव दंपत्तियों को आशीर्वाद दिया।

Leave a Reply