मोहल्ले का दादा हूं, हफ्ता तो देना पड़ेगा: मनबढ़ ने मांगी रंगदारी, पुलिस ने भेजा जेल

0
435

गोरखपुर। कैंट इलाके के कूड़ाघाट में खुद को मोहल्ले का दादा बताकर रंगदारी मांगने वाला युवक पुलिस के हत्थे चढ़ गया है। उसने दुकानदारों से पहले रुपए मांगे। इंकार करने पर दुकानदार का मोबाइल पटक दिया। कार का शीशा तोड़कर रुपए उठा ले गया। शिकायत मिलने पर कैंट पुलिस ने आरोपित और उसके साथियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करके कार्रवाई शुरू कर दी। पुलिस ने रंगबाज को अरेस्ट कर लिया। उसके दूसरे साथियों की तलाश की जा रही है।

31 मई की रात मनबढ़ों ने मांगी रंगदारी
दरगहिया के मौर्या टोला निवासी मुनिंद्र पांडेय और रोहित सिंह कूड़ाघाट तिराहे पर इलेक्ट्रानिक की एक दुकान चलाते हैं। 31 मई की रात करीब साढ़े आठ बजे कूड़ाघाट के रहने वाले रजत अग्रहरी उर्फ कल्लन और जिनित सिंह ने अपने साथियों के साथ मुनिंद्र को घेर लिया। उनकी पिटाई करके मोबाइल छीनने लिया। यह भी कहा कि उस इलाके में दुकान चलाना है। तो हर महीने रुपए देते रहो।

रुपए न देने पर तोड़ा कार का शीशा और मोबाइल
दुकानदार ने इस गुंडई का विरोध जताया तो मनबढ़ों ने उनकी कार का शीशा तोड़ दिया। उसमें रखे तीन हजार रुपए लेकर फरार हो गए। बदमाशों की यह करतूत दुकान में लगे सीसी कैमरे में कैद हो गई। फुटेज के साथ उन्होंने इसकी तहरीर कैंट पुलिस को दी। इस आधार पर पुलिस ने आरोपितों के खिलाफ रंगदारी, मारपीट, धमकी, तोड़फोड़ और चोरी करने का केस दर्ज कर लिया। गुरुवार को पुलिस आरोपित की तलाश कर रही थी। तभी उसकी लोकेशन कूड़ाघाट तिराहे पर मिली। इंस्पेक्टर सुधीर सिंह ने फोर्स के साथ उसे पकड़ लिया। रजत के खिलाफ पहले से पांच मुकदमे दर्ज हैं।

Leave a Reply