कोरोना वैक्‍सीनेशन ड्राई रन : सीएमओ ने लगवाया “पहला टीका”, बोले – नहीं है कोई नुकसान

0
362

गोरखपुर। कोरोना से निपटने के लिए मंगलवार को जिले में ड्राई रन की प्रक्रिया पूरी की गई। जिला महिला च‍िकित्‍सालय में ड्राई रन के लिए दो बूथ का निरीक्षण करने के बाद सीएमओ डॉ. सुधाकर पांडेय ने वैक्‍सीन लगवाई। इसके असर को लेकर फैली सभी भ्रांतियों को दूर किया। गोरखपुर के शहर के तीन और ग्रामीण क्षेत्र में तीन जगहों पर वैक्‍सीनेशन के लिए ड्राई रन की प्रक्रिया को पूरा किया गया। बीआरडी मेडिकल कालेज, जिला महिला चिकित्‍सालय, नगरीय स्‍वास्‍थ्‍य केन्‍द्र शाहपुर, सामुदायिक स्‍वास्‍थ्‍य केन्‍द्र कैंपियरगंज, प्राथमिक स्‍वास्‍थ्‍य केन्‍द्र खोराबार और भटहट पर ड्राई रन किया गया। हर केंद्र पर 25-25 स्‍वास्‍थ्‍यकर्मियों को बुलाया गया।
जिला महिला चिकित्‍सालय पर बने बूथ नंबर- एक पर पहले लाभार्थी के रूप में सीएमओ डॉ. सुधाकर पांडेय ने वैक्‍सीन लगवाया। आधे घंटे के लिए वेटिंग रूम में बैठकर साइड इफेक्ट का इंतजार किया।

काफी अच्छा लगा, नहीं कोई साइड इफ़ेक्ट
वैक्‍सीनेशन के बाद सीएमओ ने बताया कि वे काफी अच्‍छा महसूस कर रहे हैं। उन्‍हें किसी भी प्रकार की कोई समस्‍या या साइडइफेक्‍ट नहीं हुआ है। उन्‍होंने बताया कि ड्राई रन में टीकाकरण को छोड़कर वे सारी गतिविधियां होती हैं, जो टीकाकरण में होती हैं। लाभार्थी के मोबाइल पर एक मैसेज आएगा कि उसका टीकाकरण होना है। टीकाकरण के लिए बुलाए गए व्यक्ति की पुष्टि होने उनका हाथ सेनेटाइज करने के बाद वेटिंग एरिया में बैठाया जाएगा। टीकाकरण के बाद 30 मिनट के लिए प्रतीक्षालय में रखकर 30 मिनट का समय दिया जाएगा। जिला महिला अस्पताल की प्रमुख अधीक्षिक डॉ. माला कुमारी सिन्‍हा ने बताया कि 100 लोगों का लक्ष्‍य रखा गया है। शासन के निर्देश के अनुसार प्रोटोकाल का पूरी तरह से पालन किया जा रहा है।

Leave a Reply